रामदेवरा मेले में देश के अलग-अलग प्रांतों एवं प्रदेश से आए श्रद्धालु

0
94

जैसलमेर| देश के पश्चिमी अंचल के विख्यात तीर्थ स्थल रामदेवरा में चल रहे अंतर प्रांतीय 633वें बाबा रामदेव मेले में आस्था का सैलाब सा उमड़ पड़ा है। रामदेवरा पहुंचने वाली सभी सड़कों पर पदयात्रियों एवं वाहनों की रेलमपेल नजर आ रही है। निज मंदिर के समक्ष लम्बी-लम्बी कतारों में खड़े होकर देश के अलग-अलग प्रांतों एवं प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए श्रद्धालुओं ने श्रद्धा भावना सहित बाबा की समाधी के दर्शन कर रहे है। रामदेवरा आस्था रूपी समन्दर में उमड़ रही श्रद्घालुओं की सरिता से बाबा रामदेव की कर्मभूमी रामदेवरा का वातावरण धर्ममय बना हुआ है। धर्म, जाति एवं सम्प्रदाय के भेद से ऊपर उठकर अपने आराध्य की समाधी के अतिशीध्र दर्शन करने की एक ही आस्था मन में संजोकर रामदेवरा आ रहे यात्रियों के कारण रूणीचा नगरी देश की साझी संस्कृति का संगम स्थल बनी हुई है। बाबा रामदेव का 633 वां मेले के विधिवत रूप से शुरू होते ही कस्बे में लाखों लोगों का आगमन बना हुआ है। बसों, रेलों एवं निजी वाहनों में बैठकर आने वाले यात्रियों की बजाय पैदल आने वाले यात्रियों से रामदेवरा की ओर आने वाली सड़कें अटी पड़ी है। रामदेवरा से पोकरण आने वाली सड़क पर तो दिन रात पदयात्रियों की श्रृंखला बनी हुई है। रामदेवरा मेले को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस द्वारा सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं। कस्बे में चप्पे चप्पे पर पुलिसकर्मी तैनात हैं। बड़ी संख्या में तैनात पुलिसकर्मी संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने के साथ ही व्यवस्था को बनाए रखने में सहयोग कर रहे हैं। मंदिर परिसर, मेला मैदान व कस्बे के अन्य इलाकों में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्थाएं की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here