मैराथन बैठक के बाद भी ‘अध्यक्ष’ पर सस्पेंस बरकरार!

सीएम व संगठन मंत्री की आलाकमान से दो घण्टे बैठक, अध्यक्ष के लिए नहीं बनी सहमती, पन्द्रह जून तक टला प्रदेश अध्यक्ष का मामला, बैठक के बाद नेता बोले लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर हुई है चर्चा

जयपुर। चुनावी साल में रिक्त चल रहे बीजेपी प्रदेशाअध्यक्ष के पद का बुधवार को दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में मैराथन बैठको के बाद भी हल नहीं निकला है। अब यह मामला पन्द्रह जून तक टाल दिया गया है। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री व केन्द्रीय नेतृत्व के बीच सहमति नहीं बनने के कारण अध्यक्ष की ताजपोशी टल गई है।
इससे पूर्व बुधवार सुबह से ही मुख्यमंत्री समेत प्रदेश के बडे नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाले रखा। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय अध्यक्ष की प्रदेश बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक से पहले सीएम ने बीकानेर हाउस में सद्भावना भोज दिया जिसमें बीजेपी के पदाधिकारी व राजनेता शामिल हुए। दोपहर को सीएम ने प्रदेश बीजेपी के पदाधिकारियों व राजनेताओं से चर्चा की। बैठक में सांसद अर्जुन लाल मेघवाल, सीआर चौधरी, संगठन मंत्री चंद्रशेखर, पूर्व अध्यक्ष अशोक परनामी, गुलाब चंद कटारिया, राजेन्द्र राठौड़ व औंकार सिंह लाखाव शामिल हुए। इस चर्चा को सीएम की तरफ से शक्ति प्रर्दशन भी बताया जा रहा है। इस बीच बीकानेर हाउस में जोधपुर से सांसद व पूर्व में अध्यक्ष पद के लिए चर्चा में आए गजेन्द सिंह शेखावत भी बीकानेर हाउस नजर आए। शाम छह बजे मुख्यमंत्री व संगठन मंत्री चंद्रशेखर ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मंत्रणा की। करीब डेढ घण्टे चली इस बैठक में चालीस मिनट अध्यक्ष को लेकर चर्चा हुई मगर सीएम व आलाकमान में सहमति नहीं बन पाई। देर शाम अमित शाह की बैठक से मुख्यमंत्री चिरपरिचित अंदाज में बाहर आई।
बॉक्स-संभाग स्तर पर होगी रैलियां, सीएम करेंगी नेतृत्व
बैठक के बाद बाहर आए बीजेपी नेताओं ने कहा कि बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर चर्चा हुई है। जल्द ही मुख्यमंत्री के नेतृत्व में संभाग स्तर पर रैलियां आयोजित की जाएगी। इस रैली में केन्द्रीय नेतृत्व के साथ ही बीजेपी के पदाधिकारी व प्रदेश के राजनेता शामिल होगें। रैली के जरिए बीजेपी विकास की योजनाओं की जानकारी आमजन को देगी। बताया जा रहा है कि सीएम की यह रैलिया परिवर्तन यात्रा व सुराज संकल्प से अलग होगी।