राजस्थान के कोने-कोने की रिपोर्ट लेने के लिए शाह ने उतारी बाहर के सांसदों, मंत्रियों की टीम

प्रदेश में जैसे ही टिकटों को लेकर मंथन शुरू हुआ राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने केंद्र और राज्य के शीर्ष नेताओं को प्रदेश में तैनात कर दिया. ये नेता विधानसभा की सीटों पर फोकस करेंगे. सीटों को बी और सी कैटेगिरी में बांटा जाएगा. ये नेता राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को पल-पल की खबर सौंपेंगे.
इन नेताओं में केन्द्रीय मंत्री शिवप्रताप शुक्ला, कृष्ण लाल, सत्यपाल सिंह, मनसुख भाई, गुजरात के पूर्व गृहमंत्री शंकर भाई सहित अन्य प्रदेशों के सांसद और वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल हैं. प्रदेश में चुनावी बयार और डैमेज कंट्रोल पर इन नेताओं का विशेष फोकस रहेगा. विधानसभा चुनावों तक ये नेता प्रदेश में हो रही हर गतिविधि पर नजर रखेंगे.
सूद और सत्यपाल को जयपुर की कमान

पार्टी सूत्रों के मुताबिक भाजपा हाईकमान ने संगठन के पदाधिकारी आशीष सूद को जयपुर शहर की कमान सौंपी है. वहीं उत्तर प्रदेश के सांसद सत्यपाल सैनी को जयपुर देहात की जिम्मेदारी मिली है.

केन्द्रीय मंत्री

भाजपा हाईकमान ने केंद्रीय मंत्री मनसुख भाई को उदयपुर और सत्यपाल सिंह को सीकर की कमान सौंपी हैं. वहीं केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री कृष्ण गोपाल को रिजर्व रखा गया है. यूपी के महेंद्र सिंह भरतपुर को देखेंगे.

संगठन पदाधिकारी

पंजाव के जीवन गर्ग बीकानेर, गुजरात के केसी पटेल जोधपुर और उदयपुर को देखेंगे तो वहीं हिमाचल के पवन राणा को अजमेर संभाग की कमान सौंप दी गई है. पाली के लिए दमन दादर के विेवेक दाधकर, झुंझुनूं के लिए हरियाणा के संदीप जोशी, चित्तौडगढ़ को दिल्ली के अभय वर्मा, राजसमंद के लिए राजीव बब्बर, दौसा के लिए सुभाष आर्य को कमान सौंपी गई है.

सांसद-विधायक

दिल्ली के विधायक रमेश विधूड़ी अलवर, गुजरात के पूर्व मंत्री शंकर भाई चौधरी जालौर सिरोही ,पाली, डूंगरपुर-प्रतापगढ़. वहीं यूपी के मुजफ्फर नगर सांसद संजीव बालियान को कोटा, गुजरात के सांसद किरट भाई को बांसवाड़ा, गुजरात में पूर्व मंत्री विनोद चावड़ा को जोधपुर, गुजरात में राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त धनसुख भंडेरी को जिम्मेदारी सौंपी गई है. ये सभी नेता लोगों से भाजपा की विचारधारा के साथ चलने और चुनावों में ज्यादा से ज्यादा वोट के लिए प्रेरित करेंगे. हर एक पल की खबर भापजा अध्यक्ष अमित शाह को सौंपेंगे.