मानवेंद्र सिंह की बैठक में दिखे कांग्रेसी नेता, चढ़ा सियासी पारा

जैसलमेर . विधानसभा चुनाव के सियासी रण में भाजपा-कांग्रेस के बीच दंगल जारी है. दोनों दल एक-दूसरे को मात देकर सत्ता हासिल करने के लिए सियासी दांव-पेच चल रहे हैं. वहीं, स्वाभिमान रैली के लिए जनसम्पर्क में जुटे मानवेंद्र सिंह की बैठक में कांग्रेस नेताओं की मौजूदगी ने सियासी पारे को चढ़ा दिया है. शिव विधायक मानवेंद्र सिंह की ओर से 22 सितंबर को पचपदरा में स्वाभिमान रैली करने का ऐलान किया गया है. इस रैली में सधी हुई रणनीति के तहत अपनी ताकत दिखाने के लिए मानवेंद्र सिंह लगातार जनसम्पर्क में जुटे हैं. इसके तहत मानवेंद्र ने पोकरण में सर्व समाज की बैठक रखी . इस बैठक में कांग्रेस नेताओं की मौजूदगी के बाद से सियासी चर्चा तेज हो गई है. इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी की महासचिव सुनीता भाटी, कांग्रेस के नगर पालिका अध्यक्ष आनंदीलाल गुचिया मौजूद थे.
बैठक को सुनीता भाटी ने संबोधित भी किया. बैठक में कांग्रेस नेताओं की मौजूदगी के बाद अब मानवेंद्र सिंह के कांग्रेस में जाने की अटकलों को बल मिलता नजर आ रहा है. ये बल इसलिए भी मिल रहा है क्योंकि हाल में मानवेंद्र ने दिल्ली में जाकर कांग्रेस नेताओं से मुलाकात की थी. उसके बाद से ही उनके कांग्रेस में जाने की अटकलें लगाई जा रही है. गौरतलब है पूर्व विदेशमंत्री जसवंत सिंह के पुत्र मानवेंद्र सिंह अभी भाजपा से विधायक हैं. 2014 में पिता जसवंत सिंह को लोकसभा में टिकट नहीं मिलने के बाद से मानवेंद्र और परिजन भाजपा से नाराज हैं. चार साल की राजनीतिक चुप्पी के बाद अब मानवेंद्र ने स्वाभिमान रैली का ऐलान करते हुए सियासी ताल ठोक दी है.