टिकट देना या नहीं देना यह पार्टी के हाथ में – मानवेन्द्र की पत्नी चित्र

चित्रा सिंह ने कहा कि उनका एक मात्र लक्ष्य है भाजपा को शासन से उखाड़ फेंकना और कांग्रेस को सत्ता में लाना. उन्होंने कहा कि मैं पहले भी प्रचार करती थी और अब भी जनता के बीच जाकर कांग्रेस के लिए प्रचार करूंगी.
वहीं चुनाव लड़ने के सवाल पर चित्रा ने कहा कि इसका निर्णय कांग्रेस पार्टी करेगी. उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में भाजपा सरकार ने हमारे कार्यकर्ताओं को बहुत प्रताड़ित किया है, अब हमारा लक्ष्य है कि भाजपा को शासन से उखाड़ फेंकना है और उसे सत्ता से हटाने का समय भी आ गया है. उन्होंने कहा कि हम सभी को एक होना पड़े और तब जाकर कांग्रेस सत्ता में आएगी. प्रदेशभर में कांग्रेस के प्रति सकारात्मक माहौल है और पूरा विश्वास है कि इस बार कांग्रेस ही सत्ता में आएगी. उधर, पत्नी चित्रा सिंह के चुनाव लड़ने पर मानवेंद्र सिंह ने साफ कर दिया है कि वो चुनाव नहीं लड़ेंगी. मानवेंद्र सिंह ने कहा कि उनके परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव मैदान में नहीं उतरेगा.