बेनीवाल के तेवर के बाद नागौर में शाह के दौरे को लेकर बढ़ी भाजपा की मुश्किलें

नागौर। विधानसभा चुनाव के मैदान में भाजपा के पाये को मजबूत करने के लिए प्रदेश में दौरा कर रहे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह मंगलवार नागौर आएंगे. वहीं, खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल की ओर से शाह के दौरे का विरोध करने की चेतावनी देने के बाद से स्थानीय प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं. वहीं, भाजपा पदाधिकारी भी शाह के दौरे को  लेकर चिंतित हो उठे हैं. बेनीवाल ने अपनी मांगों के संबंध में एक पत्र स्थानीय प्रशासन को सौंपा है. साथ ही विरोध के बारे में  अंतिम निर्णय आज शाम को लेने की बात कही है. बेनीवाल की ओर से सौंपे गए मांग पत्र पर प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से मंथन जारी है. शाह के दौरे को देखते हुए प्रशासन हर पहलू पर गौर कर रहा है. वहीं, पुलिस और प्रशासन की ओर से बेनीवाल के कई समर्थकों को पाबंद किया गया है. आपको बता दें कि रविवार को टाउन हाल में बेनीवील ने शक्ति प्रदर्शन किया था. उन्होंने  भाजपा पर जमकर निशाना साधा था. साथ ही कहा कि 2013 में उनकी एक आवाज़ पर समर्थकों ने मूंडवा में वसुंधरा राजे को भागने पर मजबूर कर दिया था. अब भी सरकार ने युवाओं और किसानों की साढ़े 4 साल से लंबित मांगों पर गौर नहीं किया तो 18 को अमित शाह के दौरे का और मुख्यमंत्री की गौरव यात्रा का विरोध किया जाएगा. बाद में उन्होंने 8 सूत्री मांगों का एक पत्र प्रशासनिक अधिकारियों को सौंपा. इसमें डार्क जोन का दुबारा सर्वे, 3 साल तक के बछड़ों की बिक्री से रोक हटवाने और मेलों में तांगा दौड़ फिर शुरू करवाने सहित कई मांग शामिल है. जानकारी के मुताबिक बेनीवाल के मांग पत्र पर प्रशासन की तरफ से मंथन जारी है.