मानवेंद्र सिंह ने बाड़मेर में राजस्थान चुनाव को लेकर किया बड़ा खुलासा

पचपदरा में अपनी स्वाभिमान रैली को लेकर चर्चा में आए जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने कांग्रेस का दामन थामने के बाद रविवार को पहली बार बाड़मेर की सरजमीं पर कदम रखा. जहां, मानवेंद्र का स्वागत कांग्रेस के नेताओं के साथ सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जमकर किया. वे सुबह करीब 11:00 बजे बाड़मेर की सीमा डोली गांव पहुंचे, जहां कांग्रेस के विधायक, पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री सहित जिला अध्यक्ष और हजारों कार्यकर्ताओं ने माला पहनाकर मानवेंद्र सिंह का स्वागत किया.

उसके बाद सैकड़ों गाड़ियों के काफिले के साथ रोड-शो शुरू हुआ. इस दौरान मानवेंद्र सिंह का करीब एक दर्जन जगहों पर स्वागत हुआ. वहीं, उन्होंने नागाणाराय मंदिर जाकर पूजा-अर्चना की. उसके बाद मीडिया से बातचीत करते हुए मानवेंद्र ने कहा कि जिस तरीके से उनका स्वागत हो रहा है, उससे मुझे ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस का दामन पहले थाम लेना चाहिए था. इस दौरान उन्होंने साफ कर दिया कि उनके परिवार से कोई भी राजस्थान विधानसभा चुनाव नहीं लड़ रहा है. बता दें कि कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करने के बात कयास लगाए जा रहे थे कि उनकी पत्नी चित्रा सिंह या उनके छोटे भाई भूपेंद्र सिंह राजस्थान विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं.मानवेंद्र सिंह ने आगे कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि अपने घर में आकर कांग्रेस के नेता मेरा स्वागत कर रहे हैं, साथ ही बाड़मेर की जनता जिस तरीके से मेरा स्वागत कर रही है वह अपने आप में मेरे लिए खुशी की बात है. उन्होंने कहा कि इस बार कांग्रेस की पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनने वाली है. बता दें कि मानवेंद्र सिंह का काफिला आज शाम बालोतरा पहुंचेगा, जहां पर जिला अध्यक्ष की ओर से बैठक का आयोजन किया गया. जिसमें मानवेंद्र सिंह का स्वागत समारोह रखा गया है.