स्वाभिमान रैली का न्यौता देने मानवेन्द्र 19 को जैसलमेर में, तैयारियों में जुटे समर्थक

मानवेन्द्र सिंह की स्वाभिमान रैली मारवाड़ की राजनीति में नया भूचाल लाने वाली है. अकेले मानवेन्द्रसिंह ही नहीं अपने परिवार के स्वाभिमान के खातिर उनकी पत्नी चित्रा सिंह भी मैदान में कूद चुकी हैं. गत लोकसभा चुनाव में पूर्व केन्द्रीय मंत्री व मारवाड़ के दिग्गज नेता जसवंतसिंह का टिकट काटने के बाद भाजपा व मानवेन्द्रसिंह के बीच की दूरियां निरंतर बढती ही जा रही है. वहीं अब आगामी 22 सितम्बर को स्वाभिमान रैली का बिगुल बजाकर मानवेन्द्रसिंह ने भाजपा के सामने मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. मानवेन्द्रसिंह स्वाभिमान रैली को लेकर निरंतर जनसंपर्क में है. मानवेन्द्रसिंह आगामी 19 सितम्बर को जैसलमेर में जनसंपर्क कर स्वाभिमान रैली का न्यौता देंगे. कार्यक्रम के अनुसार मानवेन्द्र सिंह 19 सितम्बर को भादवा दशमी के अवसर पर 11 बजे पनरासर में दर्शन कर खडाल क्षेत्र की बैठक लेंगे तथा स्वाभिमान रैली का न्यौता देंगे. इसी प्रकार करीबन 1 बजे मठ ख्याला के दर्शन कर सोढाण क्षेत्र की बैठक में अधिक से अधिक संख्या में पचपदरा पहुंचने की अपील करेंगे. इसी प्रकार दोपहर करीब 3 बजे जोगीदास गांव की माता राणी भटियाणी के दर्शन कर क्षेत्र के ग्रामीणों को स्वाभिमान रैली का न्यौता देंगे. उसके बाद देगराय माता मंदिर के दरबार में मत्था टेक आस पास के क्षेत्र के ग्रामीणों की बैठक लेंगे. बैठक में मानवेन्द्रसिंह आगामी 22 सितम्बर को होने वाली स्वाभिमान रैली का न्यौता देंगे. मानवेन्द्रसिंह की आगामी 19 सितम्बर को यात्रा को देखते हुए उनके समर्थकों ने प्रचार प्रसार तेज कर दिया है. बता दें कि जैसलमेर में जसवंत सिंह जसोल परिवार के समर्थक अच्छी तादाद में हैं.