सूची में नाम गायब होने से मंत्री और विधायकों के चेहरे से हंसी गायब, CM से मिलने आए मंत्री बोले- All Is Well

सीएमआर में मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद बाहर निकले सामान्य प्रशासन मंत्री हेमसिंह भड़ाना तो मीडिया से बच कर निकलने की जुगत में ऐसे भागे की मीडियाकर्मी उनसे पूछते ही रह गये की क्या रहा अंदर. लेकिन भड़ाना बस कार में बैठने के बाद इतना बोले कि ऑल इस वेल. वहीं सीएम से मिलकर बाहर आए खान मंत्री सुरेंद्र पाल टी टी ने तो यह तक कह दिया कि उन्होंने इस चुनाव में टिकट की मांग ही नहीं कि और यदि पार्टी टिकट देगी तो लडेंगे वार्ना जो 200 टिकट दिए गए हैं. उन्हें जीताने के लिए काम करेंगे. उधर सीएम से मिलकर निकले लाडपुरा से भाजपा विधायक भवानी सिंह राजावत पहले तो मीडिया से बात करने से बचते नजर आए. लेकिन बाद में बोले कि सीएम से सौहार्दपूर्ण वातावरण में मुलाकात हुई है और मैन सीएम से कहा कि पहली सूची में नाम नहीं आया तो वो बोली कि दूसरी सूची का इंतजार करो. इसी तरह मुख्यमंत्री से मिलने आए संसदीय सचिव ओमप्रकाश हुडला और विधायक जगदीश मीणा भी मीडिया से कन्नी काटते हुए वहां से निकल गए.

युवा मोर्चा अध्यक्ष को सीएम ने किया रवाना
मुख्यमंत्री से मुलाकात करने भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अशोक सैनी भी आए थे. सैनी भादरा से टिकट मांग रहे हैं. जब उन्होंने मुख्यमंत्री से मुलाकात की तो सीएम उन्हें देखकर नाराज हुई साथ ही यह भी कहा कि आपको मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष का दायित्व दिया गया है. उसमें काम करें मुख्यमंत्री ने बातों ही बातों में यह भी कह डाला की मैंने आपके युवा मोर्चा का पोखरण में हुआ कार्यक्रम भी देखा है आप अब जाइए. टिकट मांगने वालों में युवा मोर्चा मीडिया संयोजक अमित शर्मा भी कतार में लगे नजर आए. शर्मा को मुख्यमंत्री ने पूछा आप यहां कैसे तो शर्मा ने सांगानेर क्षेत्र से घनश्याम तिवाड़ी को हराने का दम भरते हुए मुख्यमंत्री से टिकट की मांग कर डाली.