कितनी जगहों से चुनाव लड़ेंगे मोदी?

प्रधानमंत्री के दावेदार के तौर पर नरेंद्र मोदी ने 2014 में दो सीटों पर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। वे अपने गृह राज्य गुजरात की वड़ोदरा सीट से लड़े थे और देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट से लड़े थे। बाद में उन्होंने वड़ोदरा सीट से इस्तीफा दे दिया था। अब फिर लोकसभा का चुनाव नजदीक है और यह कयास लगाया जाने लगा है कि प्रधानमंत्री इस बार कितनी सीटों से चुनाव लड़ेंगे।

पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी की ओड़िशा ईकाई ने उनको पुरी की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया है। पार्टी ने विधिवत प्रस्ताव पास करके इसकी अपील की है। ध्यान रहे लोकसभा के साथ ही ओड़िशा का विधानसभा चुनाव होने वाला है। भाजपा को लग रहा है कि प्रधानमंत्री पुरी से चुनाव लड़े तो विधानसभा और लोकसभा दोनों चुनावों में पार्टी को फायदा होगा।

बिहार भाजपा के कई नेता चाहते हैं कि प्रधानमंत्री बिहार आकर चुनाव लड़ें। उनके लिए पटना साहिब सीट का प्रस्ताव दिया गया था, जहां से शत्रुघ्न सिन्हा सांसद हैं। एक नई चर्चा यह है कि महात्मा गांधी की डेढ़ सौवीं जयंती के मौके पर एक साल के लिए चल रहे समारोह के बीच प्रधानमंत्री मोदी को पूर्वी या पश्चिमी चंपारण सीट से लड़ने के लिए भी कहा जाएगा। उनके गृह राज्य गुजरात में फिर से लड़ने की भी मांग हो रही है तो यह भी कहा जा रहा है कि दक्षिण की किसी सीट से भी उनके चुनाव लड़ने का प्रस्ताव है। इस बीच यह तय बताया जा रहा है कि वे वाराणसी से जरूर लड़ेंगे।