सीटों के बंटवारे को लेकर बेनीवाल और तिवाड़ी में मंथन, 30 सीटें अन्य के लिए छोड़ेंगे

जयपुर: आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजस्थान में तीसरे मोर्चे की चर्चा जोरों पर है. पिछले दिनों हुई जयपुर में हुंकार महारैली की, जिसमें भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ गठबंधन का दावा किया. इसमें प्रदेश के दो बड़े नेता हनुमान बेनीवाल और घनश्याम तिवाड़ी ने एक साथ हुंकार भरी थी.
अब दोनों ही नेता आगामी चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारने की तैयारी कर रहे हैं. इसके लिए बेनीवाल और तिवाड़ी के बीच सीटों को लेकर मंथन चल रहा है. इस गठबंधन में अन्य कई दल भी साथ आए हैं इसलिए उन्हें भी सीटें बांटी जाएंगी. बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी और तिवाड़ी की भारत वाहिनी पार्टी के अलावा अन्य दलों के लिए 30 सीटें छोड़ने की बात कही जा रही है. बताया जा रहा है कि सीट बंटवारे का जिम्मा घनश्याम तिवाड़ी ने अपने जिम्मे ले रखा है. आगामी चुनाव में उनकी पार्टी 200 में से करीब 100-110 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. साथ ही बेनीवाल और तिवाड़ी दोनों ही नेताओं में सीट को लेकर कोई झगड़ा नहीं है. इनका मानना है कि साथ आने वाले अन्य दलों को भी पूरा सम्मान दिया जाए और उचित संख्या में सीटें दी जाएंगी. बेनीवाल भी अपने प्रभाव वाली करीब 40 से 50 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे.